HomeSarkari Yojana₹10 लाख तक का लोन ले | Pradhan Mantri Mudra Yojana-प्रधानमंत्री मुद्रा...

₹10 लाख तक का लोन ले | Pradhan Mantri Mudra Yojana-प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना 2024.

Table of Contents

Pradhan Mantri Mudra Loan Yojana.

योजना का नामप्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना 
इनके द्वारा शुरू की गयीप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा
लाभार्थीदेश के लोग
उद्देश्यलोन प्रदान करना
ऑफिसियल वेबसाइटhttps://www.mudra.org.in/
PM MUDRA YOJNA

Pradhan Mantri Mudra Yojana क्या है?

Pradhan Mantri Mudra Yojana एक सरकारी योजना है जो भारत सरकार द्वारा शुरू की गई है। इस योजना के तहत, छोटे व्यवसायों और उद्यमियों को वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है ताकि वे अपने व्यवसाय को बढ़ावा दे सकें।

इस योजना के तहत, तीन प्रकार के ऋण प्रदान किए जाते हैं: शिशु, किशोर और तरुण। शिशु ऋण छोटे व्यवसायों के लिए होता है जो शुरुआती रूप से अपने व्यवसाय को बढ़ाना चाहते हैं। किशोर ऋण उन व्यवसायों के लिए होता है जो अपने व्यवसाय को बढ़ाने के लिए अधिक धन की आवश्यकता होती है। तरुण ऋण उन व्यवसायों के लिए होता है जो अपने व्यवसाय को बढ़ाने के लिए बड़ी राशि की आवश्यकता होती है।

Pradhan Mantri Mudra Yojana योजना के तहत, व्यवसायों को ब्याज दर में कमी और आसान शर्तों के साथ ऋण प्रदान किया जाता है। इसके अलावा, योजना के तहत व्यवसायों को विभिन्न वित्तीय सेवाएं भी प्रदान की जाती हैं जैसे कि बैंक खाते, बीमा आदि।

Pradhan Mantri Mudra Yojana योजना के माध्यम से, सरकार छोटे व्यवसायों और उद्यमियों को वित्तीय सहायता प्रदान करके उनके व्यवसाय को बढ़ावा देने का लक्ष्य रखती है।

Pradhan Mantri Mudra Yojana के उद्देश्य

Pradhan Mantri Mudra Yojana के उद्देश्य कुछ इस प्रकार हैं:

  1. छोटे व्यवसायों को वित्तीय सहायता प्रदान करना: Pradhan Mantri Mudra Yojana के माध्यम से, सरकार छोटे व्यवसायों को वित्तीय सहायता प्रदान करती है ताकि वे अपने व्यवसाय को बढ़ावा दे सकें।
  2. बेरोजगारी को कम करना: योजना के माध्यम से, सरकार बेरोजगारों को व्यवसाय शुरू करने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करती है। इससे बेरोजगारों को रोजगार के अवसर मिलते हैं और उनकी आर्थिक स्थिति मजबूत होती है।
  3. व्यवसाय के विकास को बढ़ावा देना: योजना के माध्यम से, सरकार व्यवसायों को वित्तीय सहायता प्रदान करती है जिससे वे अपने व्यवसाय को बढ़ावा दे सकें। इससे व्यवसायों की आर्थिक स्थिति मजबूत होती है और वे अपने व्यवसाय को बढ़ा सकते हैं।
  4. वित्तीय समावेशी को बढ़ावा देना: योजना के माध्यम से, सरकार वित्तीय समावेशी को बढ़ावा देती है जिससे व्यवसायों को वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है। इससे व्यवसायों को वित्तीय समावेशी के साथ वित्तीय सहायता मिलती है और वे अपने व्यवसाय को बढ़ा सकते हैं।
  5. आर्थिक विकास को बढ़ावा देना: योजना के माध्यम से, सरकार आर्थिक विकास को बढ़ावा देती है जिससे व्यवसायों को वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है। इससे व्यवसायों की आर्थिक स्थिति मजबूत होती है और वे अपने व्यवसाय को बढ़ा सकते हैं।

Pradhan Mantri Mudra Yojana के लाभ एवं विशेषताएं

Pradhan Mantri Mudra Yojana (PMMY) के लाभ

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना के लाभ और विशेषताएं कुछ इस प्रकार हैं:

  1. ब्याज दर में कमी: Pradhan Mantri Mudra Yojana के तहत व्यवसायों को ब्याज दर में कमी प्रदान की जाती है। इससे व्यवसायों को ऋण वापस करने में आसानी होती है और उनकी आर्थिक स्थिति मजबूत होती है।
  2. आसान शर्तें: योजना के तहत व्यवसायों को आसान शर्तों के साथ ऋण प्रदान किया जाता है। इससे व्यवसायों को ऋण प्राप्त करने में आसानी होती है और उनकी आर्थिक स्थिति मजबूत होती है।
  3. वित्तीय सहायता: योजना के तहत व्यवसायों को वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है जो उनके व्यवसाय को बढ़ावा देती है। इससे व्यवसायों की आर्थिक स्थिति मजबूत होती है और वे अपने व्यवसाय को बढ़ा सकते हैं।
  4. वित्तीय समावेशी: योजना के तहत व्यवसायों को वित्तीय समावेशी के साथ वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है। इससे व्यवसायों को वित्तीय समावेशी के साथ वित्तीय सहायता मिलती है और वे अपने व्यवसाय को बढ़ा सकते हैं।
  5. विभिन्न ऋण विकल्प: योजना के तहत व्यवसायों को विभिन्न ऋण विकल्प प्रदान किए जाते हैं जैसे कि शिशु, किशोर और तरुण ऋण। इससे व्यवसायों को उनकी आवश्यकतानुसार ऋण प्रदान किया जाता है।
  6. वित्तीय सेवाएं: योजना के तहत व्यवसायों को विभिन्न वित्तीय सेवाएं भी प्रदान की जाती हैं जैसे कि बैंक खाते, बीमा आदि।
  7. आसान ऑनलाइन आवेदन: योजना के तहत व्यवसायों को आसान ऑनलाइन आवेदन करने की सुविधा भी प्रदान की जाती है। इससे व्यवसायों को अपने व्यवसाय को बढ़ाने के लिए वित्तीय सहायता प्राप्त करने में आसानी होती है।
Pradhan Mantri Mudra Yojana (PMMY) की विशेषताएं

Pradhan Mantri Mudra Yojana (पीएमएमवाई) की विशेषताएँ निम्नलिखित हैं:

  1. तीन प्रकार के ऋण: योजना में शिशु, किशोर और तरुण ऋण के तहत विभिन्न प्रकार के व्यवसायों के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है।
  2. ब्याज दर में कमी: योजना के तहत व्यवसायों को ब्याज दर में कमी प्राप्त होती है, जिससे उन्हें वित्तीय सहायता प्राप्त करने में आसानी होती है।
  3. आसान ऋण प्रक्रिया: योजना के तहत व्यवसायी आसानी से बैंकों से ऋण प्राप्त कर सकते हैं और उन्हें वित्तीय सहायता प्राप्त करने में कोई भी कठिनाई नहीं होती है।
  4. बिना सुरक्षा योग्यता के ऋण: योजना के तहत व्यवसायी बिना किसी सुरक्षा योग्यता के भी ऋण प्राप्त कर सकते हैं, जो उन्हें वित्तीय सहायता प्राप्त करने में मदद करता है।
  5. वित्तीय समावेशी: योजना के तहत व्यवसायों को वित्तीय समावेशी के साथ वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है, जिससे उन्हें वित्तीय सहायता प्राप्त करने में आसानी होती है।
  6. वित्तीय सेवाएं: योजना के तहत व्यवसायों को विभिन्न वित्तीय सेवाएं भी प्रदान की जाती हैं जैसे कि बैंक खाते, बीमा आदि।
  7. आसान ऑनलाइन आवेदन: योजना के तहत व्यवसायों को आसान ऑनलाइन आवेदन करने की सुविधा भी प्रदान की जाती है, जिससे उन्हें वित्तीय सहायता प्राप्त करने में आसानी होती है।

तीन प्रकार के ऋण: योजना में शिशु, किशोर और तरुण ऋण के तहत विभिन्न प्रकार के व्यवसायों के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है।

Pradhan Mantri Mudra Yojana (पीएमएमवाई) में शिशु, किशोर और तरुण ऋण तीन प्रकार के व्यवसायों के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करते हैं। ये तीन श्रेणियाँ व्यवसायों के आधारिक विकास और वृद्धि को ध्यान में रखते हैं और विभिन्न आयामों पर वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए बनाए गए हैं।

  1. शिशु ऋण: शिशु ऋण योजना के तहत छोटे व्यवसायों और उद्यमों को वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है जो शुरुआती रूप से अपने व्यवसाय को बढ़ावा देना चाहते हैं।
  2. किशोर ऋण: किशोर ऋण योजना उन व्यवसायों के लिए है जो अपने व्यवसाय को बढ़ाने के लिए अधिक धन की आवश्यकता होती है।
  3. तरुण ऋण: तरुण ऋण योजना उन व्यवसायों के लिए है जो अपने व्यवसाय को बढ़ाने के लिए बड़ी राशि की आवश्यकता होती है।

इन तीनों ऋण योजनाओं के तहत, व्यवसायों को ब्याज दर में कमी और आसान शर्तों के साथ वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है जो उन्हें अपने व्यवसाय को बढ़ावा देने में मदद करती है।

Pradhan Mantri Mudra Yojana (पीएमएमवाई) में विभिन्न प्रकार के व्यवसायों के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है, जो शिशु, किशोर, और तरुण ऋण के रूप में वर्गीकृत हैं। नीचे दी गई तालिका में हर श्रेणी के लिए ऋण राशि, चुकता करने का समय, और ब्याज दर की पूरी जानकारी है:

ऋण श्रेणीऋण राशिचुकता करने का समयब्याज दर
शिशु₹50,000 तक5 वर्ष तककम ब्याज दर
किशोर₹50,001 से ₹5 लाख तक7 वर्ष तकप्रतिस्पर्धी ब्याज दर
तरुण₹5,00,001 से ₹10 लाख तक7 वर्ष तकउच्च ब्याज दर

नोट: ब्याज दरें ऋण प्रदाता संस्था के आधार पर बदल सकती हैं। सबसे सटीक और अद्यतित जानकारी के लिए संबंधित बैंक से संपर्क करना सलाहकारी है।

Also Read This:PM Vishvkarama Yojana 2023: Online Apply | प्रधानमंत्री विश्वकर्म योजना 2024.

Pradhan Mantri Mudra Yojana के अंतर्गत अब तक प्रदान की गई राशि

Pradhan Mantri Mudra Yojana के अंतर्गत अब तक बहुत सारे लोगों को वित्तीय सहायता प्रदान की गई है। इस योजना के तहत अब तक लगभग 30 करोड़ से अधिक लोगों को ऋण प्रदान किया गया है।

इसके अलावा, अब तक इस योजना के तहत लगभग 15 लाख करोड़ रुपये का ऋण प्रदान किया गया है। यह ऋण छोटे व्यवसायों और उद्यमियों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए उपलब्ध है।

इस योजना के तहत व्यवसायों को ब्याज दर में कमी और आसान शर्तों के साथ ऋण प्रदान किया जाता है। इसके अलावा, योजना के तहत व्यवसायों को विभिन्न वित्तीय सेवाएं भी प्रदान की जाती हैं जैसे कि बैंक खाते, बीमा आदि।

Pradhan Mantri Mudra Yojana के अंतर्गत आने वाले बैंक

Pradhan Mantri Mudra Yojana (पीएम मुद्रा योजना) के अंतर्गत आने वाले प्रमुख बैंकों में से कुछ निम्नलिखित हैं:

  1. स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (State Bank of India)
  2. पंजाब नेशनल बैंक (Punjab National Bank)
  3. बैंक ऑफ बड़ौदा (Bank of Baroda)
  4. केनरा बैंक ऑफ इंडिया (Canara Bank)
  5. बैंक ऑफ इंडिया (Bank of India)
  6. इंडियन बैंक (Indian Bank)
  7. यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (Union Bank of India)
  8. बैंक ऑफ महाराष्ट्र (Bank of Maharashtra)
  9. सिंडिकेट बैंक (Syndicate Bank)
  10. कोर्पोरेशन बैंक (Corporation Bank)

ये बैंक प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के अंतर्गत छोटे व्यवसायों और उद्यमियों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए उपयुक्त हैं।

PM Mudra Loan Yojana के लाभार्थी

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना (पीएम मुद्रा लोन योजना) के लाभार्थी के लिए कुछ निम्नलिखित हैं:

  1. ब्याज दर में कमी: पीएम मुद्रा लोन योजना के तहत व्यवसायों को ब्याज दर में कमी प्रदान की जाती है। इससे व्यवसायों को ऋण वापस करने में आसानी होती है और उनकी आर्थिक स्थिति मजबूत होती है।
  2. आसान शर्तें: योजना के तहत व्यवसायों को आसान शर्तों के साथ ऋण प्रदान किया जाता है। इससे व्यवसायों को ऋण प्राप्त करने में आसानी होती है और उनकी आर्थिक स्थिति मजबूत होती है।
  3. वित्तीय सहायता: योजना के तहत व्यवसायों को वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है जो उनके व्यवसाय को बढ़ावा देती है। इससे व्यवसायों की आर्थिक स्थिति मजबूत होती है और वे अपने व्यवसाय को बढ़ा सकते हैं।
  4. वित्तीय समावेशी: योजना के तहत व्यवसायों को वित्तीय समावेशी के साथ वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है। इससे व्यवसायों को वित्तीय समावेशी के साथ वित्तीय सहायता मिलती है और वे अपने व्यवसाय को बढ़ा सकते हैं।
  5. विभिन्न ऋण विकल्प: योजना के तहत व्यवसायों को विभिन्न ऋण विकल्प प्रदान किए जाते हैं जैसे कि शिशु, किशोर और तरुण ऋण। इससे व्यवसायों को उनकी आवश्यकतानुसार ऋण प्रदान किया जाता है।
  6. वित्तीय सेवाएं: योजना के तहत व्यवसायों को विभिन्न वित्तीय सेवाएं भी प्रदान की जाती हैं जैसे कि बैंक खाते, बीमा आदि।
  7. आसान ऑनलाइन आवेदन: योजना के तहत व्यवसायों को आसान ऑनलाइन आवेदन करने की सुविधा भी प्रदान की जाती है। इससे व्यवसायों को अपने व्यवसाय को बढ़ाने के लिए वित्तीय सहायता प्राप्त करने में आसानी होती है।

PM Mudra Loan Yojana State Wise Report

शिशु ऋण

Pradhan Mantri Mudra Yojana (पीएम मुद्रा लोन योजना) के तहत शिशु ऋण योजना के अंतर्गत अब तक लाखों लोगों को वित्तीय सहायता प्रदान की गई है। इस योजना के तहत अब तक लगभग 30 करोड़ से अधिक लोगों को ऋण प्रदान किया गया है।

शिशु ऋण योजना के तहत अब तक लगभग 1.5 करोड़ लोगों को वित्तीय सहायता प्रदान की गई है। इस योजना के तहत लोगों को 50 हजार रुपये तक का ऋण प्रदान किया जाता है।

शिशु ऋण योजना के तहत अब तक उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, बिहार, राजस्थान, कर्नाटक, गुजरात, ओडिशा, तेलंगाना, असम, मध्य प्रदेश, पंजाब, छत्तीसगढ़, झारखंड, उत्तराखंड, हरियाणा, केरल और अन्य कुछ राज्यों में लोगों को वित्तीय सहायता प्रदान की गई है।

इन राज्यों में शिशु ऋण योजना के तहत लोगों को विभिन्न व्यवसायों के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है जैसे कि छोटे दुकान, शॉप, बिस्तर निर्माण, खाद्य प्रसंस्करण, बाल उत्पादन, आदि।

किशोर ऋण

किशोर ऋण योजना के तहत, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (पीएम मुद्रा योजना) के अंतर्गत अब तक लाखों लोगों को वित्तीय सहायता प्रदान की गई है। इस योजना के तहत अब तक लगभग 30 करोड़ से अधिक लोगों को ऋण प्रदान किया गया है।

किशोर ऋण योजना के तहत अब तक लगभग 3 करोड़ लोगों को वित्तीय सहायता प्रदान की गई है। इस योजना के तहत लोगों को 5 लाख रुपये तक का ऋण प्रदान किया जाता है।

किशोर ऋण योजना के तहत अब तक उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, बिहार, राजस्थान, कर्नाटक, गुजरात, ओडिशा, तेलंगाना, असम, मध्य प्रदेश, पंजाब, छत्तीसगढ़, झारखंड, उत्तराखंड, हरियाणा, केरल और अन्य कुछ राज्यों में लोगों को वित्तीय सहायता प्रदान की गई है।

इन राज्यों में किशोर ऋण योजना के तहत लोगों को विभिन्न व्यवसायों के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है जैसे कि छोटे दुकान, शॉप, बिस्तर निर्माण, खाद्य प्रसंस्करण, बाल उत्पादन, आदि।

तरुण ऋण

तरुण ऋण योजना के तहत, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (पीएम मुद्रा योजना) के अंतर्गत अब तक लाखों लोगों को वित्तीय सहायता प्रदान की गई है। इस योजना के तहत अब तक लगभग 30 करोड़ से अधिक लोगों को ऋण प्रदान किया गया है।

तरुण ऋण योजना के तहत अब तक लगभग 2 करोड़ लोगों को वित्तीय सहायता प्रदान की गई है। इस योजना के तहत लोगों को 10 लाख रुपये तक का ऋण प्रदान किया जाता है।

तरुण ऋण योजना के तहत अब तक उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, बिहार, राजस्थान, कर्नाटक, गुजरात, ओडिशा, तेलंगाना, असम, मध्य प्रदेश, पंजाब, छत्तीसगढ़, झारखंड, उत्तराखंड, हरियाणा, केरल और अन्य कुछ राज्यों में लोगों को वित्तीय सहायता प्रदान की गई है।

इन राज्यों में तरुण ऋण योजना के तहत लोगों को विभिन्न व्यवसायों के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है जैसे कि छोटे दुकान, शॉप, बिस्तर निर्माण, खाद्य प्रसंस्करण, बाल उत्पादन, आदि।

Pradhan Mantri Mudra Yojana के लिए पात्रता

Pradhan Mantri Mudra Yojana (पीएम मुद्रा योजना) के लिए निम्नलिखित व्यक्ति या व्यापारिक संस्थान पात्र हो सकते हैं:

  1. शिशु ऋण (अधिकतम ऋण राशि 50,000 रुपये) – इस योजना के तहत छोटे व्यवसायों और उद्यमों को वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है जो शुरुआती रूप से अपने व्यवसाय को बढ़ावा देना चाहते हैं।
  2. किशोर ऋण (अधिकतम ऋण राशि 5 लाख रुपये) – इस योजना के तहत व्यवसायों को वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है जो अपने व्यवसाय को बढ़ाने के लिए अधिक धन की आवश्यकता होती है।
  3. तरुण ऋण (अधिकतम ऋण राशि 10 लाख रुपये) – इस योजना के तहत व्यवसायों को वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है जो अपने व्यवसाय को बढ़ाने के लिए बड़ी राशि की आवश्यकता होती है।

योजना के तहत ऋण प्राप्त करने के लिए व्यक्ति या व्यापारिक संस्थान किसी भी बैंक या वित्तीय संस्था में आवेदन कर सकते हैं, जो योजना के तहत ऋण प्रदान करती हैं।

Pradhan Mantri Mudra Yojana के लिए आवश्यक दस्तावेज़

Pradhan Mantri Mudra Yojana (पीएम मुद्रा योजना) के लिए आवश्यक दस्तावेज़ निम्नलिखित हो सकते हैं, हालांकि यह दस्तावेज़ बैंक और वित्तीय संस्थाओं के नियमों और योजना के अनुसार भिन्न हो सकते हैं:

  1. आवेदन पत्र: पहला और सबसे महत्वपूर्ण दस्तावेज़ है आवेदन पत्र। आपको बैंक या वित्तीय संस्था के द्वारा प्रदत्त आवेदन पत्र को भरकर जमा करना होगा।
  2. व्यक्तिगत पहचान: आपकी पहचान के लिए किसी भी सरकारी मान्यता प्राप्त दस्तावेज़ जैसे कि पैन कार्ड, आधार कार्ड, पासपोर्ट, वोटर आईडी कार्ड आदि की प्रति भी आवश्यक हो सकती है।
  3. व्यवसाय संबंधित दस्तावेज़: आपको अपने व्यवसाय के संबंध में किसी भी दस्तावेज़ जैसे कि व्यापारिक पंजीकरण, व्यवसाय प्रोफाइल, व्यवसाय की विस्तृत जानकारी, व्यवसाय की योजना, आदि की प्रति भी आवश्यकता हो सकती है।
  4. वित्तीय दस्तावेज़: आपको अपनी वित्तीय स्थिति को साबित करने वाले किसी भी दस्तावेज़ जैसे कि बैंक स्टेटमेंट, आयकर रिटर्न, वित्तीय रिपोर्ट, आदि की प्रति भी आवश्यकता हो सकती है।

यह दस्तावेज़ आपके व्यवसाय और वित्तीय स्थिति को साबित करने के लिए आवश्यक होते हैं, हालांकि इसमें बदलाव भी बैंक और वित्तीय संस्थाओं के नियमों के अनुसार हो सकते हैं।

Pradhan Mantri Mudra Loan Yojana में ऑनलाइन आवेदन कैसे करें

  1. सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। अब आपके सामने वेबसाइट होम पेज खुल जाएगा।
प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना
  1. होम पेज पर आपको मुद्रा योजना के निम्नलिखित प्रकार दिखाई देंगे।
    • शिशु
    • किशोर
    • तरुण
  2. इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
  3. आपको इस पेज से Application Form डाउनलोड करना होगा।
  4. फिर आपको इस एप्लीकेशन फॉर्म को प्रिंट करना होगा।
  5. अब आपको एप्लीकेशन फॉर्म में सभी महत्वपूर्ण जानकारी ध्यानपूर्वक भरनी होगी।
  6. फिर आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेज संलग्न करने होंगे।
  7. अब आपको यह एप्लीकेशन फॉर्म अपने नजदीकी बैंक में जमा करना होगा।

आपकी एप्लीकेशन के सत्यापन के बाद 1 महीने के अंदर आपको लोन प्रदान कर दिया जाएगा।

Pradhan Mantri Mudra Loan Yojana में ऑफलाइन आवेदन कैसे करें

  1. सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। अब आपके सामने वेबसाइट होम पेज खुल जाएगा।
  2. होम पेज पर आपको लॉगइन के बटन पर क्लिक करना होगा।
प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना
  1. आपके सामने एक नया पेज खुलेगा और आपको अपना यूजरनेम, पासवर्ड और कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  2. इसके बाद आपको Login बटन पर क्लिक करना होगा।

इस तरह आप मुद्रा पोर्टल में प्रवेश कर सकते हैं।

Pradhan Mantri Mudra Loan Yojana में लॉगिन करने की प्रक्रिया

  1. इस योजना के तहत जो इच्छुक लाभार्थी ऋण के लिए आवेदन करना चाहते हैं वे नजदीकी सरकारी बैंक, निजी बैंक, ग्रामीण बैंक, वाणिज्यिक बैंक आदि से संपर्क कर सकते हैं।
  2. इसके बाद उस बैंक में जाएं जहां आप ऋण लेना चाहते हैं और एक Application Form भरें।
  3. फॉर्म को भरकर अपने सभी दस्तावेज़ों के साथ अटैच करके बैंक के अधिकारी के पास जमा कर दे।
  4. बैंक आपके सभी दस्तावेजों की जांच करने के बाद एक महीने के अंदर आपको लोन जारी कर देगा।

Pradhan Mantri Mudra Loan Yojana Helpline Number

The helpline number for the Pradhan Mantri Mudra Loan Yojana is 1800 180 1111. This toll-free number can be used to seek information and assistance related to the Mudra Loan Scheme.

क्या पीएम मुद्रा लोन योजना है?

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना एक सरकारी योजना है जो शिशु, किशोर और तरुण ऋण के तहत व्यवसायों को वित्तीय सहायता प्रदान करती है।

पीएम मुद्रा लोन योजना के लाभार्थी के लिए कितना ऋण प्रदान किया गया है?

अब तक पीएम मुद्रा लोन योजना के लाभार्थी के लिए लगभग 30 करोड़ से अधिक ऋण प्रदान किया गया है।

पीएम मुद्रा लोन योजना के लाभार्थी के लिए कितना ऋण प्रदान किया जाता है?

पीएम मुद्रा लोन योजना के लाभार्थी के लिए शिशु ऋण के तहत 50,000 रुपये, किशोर ऋण के तहत 5 लाख रुपये और तरुण ऋण के तहत 10 लाख रुपये का ऋण प्रदान किया जाता है।

पीएम मुद्रा लोन योजना के लाभार्थी के लिए कितना ब्याज दर है?

पीएम मुद्रा लोन योजना के लाभार्थी के लिए ब्याज दर के साथ भी विभिन्न हो सकता है। बैंक और वित्तीय संस्थाओं के नियमों और योजना के अनुसार ब्याज दर का सामग्री बदलाव हो सकता है।

पीएम मुद्रा लोन योजना के लाभार्थी के लिए कितना समस्या है?

पीएम मुद्रा लोन योजना के लाभार्थी के लिए समस्या के साथ भी विभिन्न हो सकती हैं। बैंक और वित्तीय संस्थाओं के नियमों और योजना के अनुसार समस्या का सामग्री बदलाव हो सकता है।

पीएम मुद्रा लोन योजना के लाभार्थी के लिए कितना समस्या है?

पीएम मुद्रा लोन योजना के लाभार्थी के लिए समस्या के साथ भी विभिन्न हो सकती हैं। बैंक और वित्तीय संस्थाओं के नियमों और योजना के अनुसार समस्या का सामग्री बदलाव हो सकता है।

Amit Kumar
Amit Kumarhttps://trendworldnews.com/
Founder of Trend World News and I am a professional blogger, web design and SEO analyst, blog content writer, and social media specialist. With a BCA degree, they bring technical expertise and a passion for creating captivating online experiences. Their skills in web design, SEO, and content writing drive organic traffic and engage readers. As a social media specialist, they enhance brand visibility and foster connections with audiences. Continuously learning and staying up-to-date, I delivers exceptional results in the ever-evolving digital landscape.
RELATED ARTICLES

Leave a Reply

Most Popular